Infosys Share Price: Infosys को मिलेगा बड़ा रिफंड, शेयर बना रॉकेट, एक्सपर्ट बोले-मुनाफे के लिए खरीदो!

Infosys Share Price: अंतरराष्ट्रीय आईटी सॉफ्टवेयर क्षेत्र की पावर हाउस इंफोसिस ने ₹6,329 करोड़ का महत्वपूर्ण टैक्स रिफंड प्राप्त किया है, जो कंपनी और उसके शेयरधारकों के लिए सकारात्मक खबर है। यह रिफंड कंपनी की मजबूत वित्तीय स्थिति को रेखांकित करता है, जो वर्तमान में ₹6,534 करोड़ के नकदी प्रवाह और ₹6,21,820.70 करोड़ के कुल बाजार पूंजीकरण के साथ ऋण-मुक्त है।

इंफोसिस शेयर कंपनी के बारे में:

1981 में पुणे में स्थापित, इंफोसिस ने इंफोसिस कंसल्टेंट्स प्राइवेट लिमिटेड के नाम से अपनी यात्रा शुरू की। पिछले कुछ वर्षों में, यह परामर्श, प्रौद्योगिकी, आउटसोर्सिंग और अगली पीढ़ी की डिजिटल सेवाओं की पेशकश करते हुए आईटी और सॉफ्टवेयर क्षेत्र में एक दिग्गज के रूप में उभरा है। इंफोसिस भारत के आईटी परिदृश्य में अग्रणी खिलाड़ी बनी हुई है।

20 वर्षों तक हर महीने ₹500 का निवेश करने से लगभग ₹3,80,000 प्राप्त हो सकते हैं!

वित्तीय प्रदर्शन:

स्थिर लाभ वृद्धि: पिछले पांच वर्षों में, इंफोसिस के शुद्ध लाभ में पर्याप्त वृद्धि देखी गई है, जो सालाना ₹14,702 करोड़ से बढ़कर ₹23,268 करोड़ हो गया है। यह निरंतर विकास प्रक्षेपवक्र बाजार में कंपनी के मजबूत प्रदर्शन को दर्शाता है।

टैक्स रिफंड घोषणा:

एक्सचेंज फाइलिंग द्वारा जारी जानकारी के अनुसार, इंफोसिस को कर विभाग से 6,329 करोड़ रुपये का टैक्स रिफंड प्राप्त हुआ है। हालांकि, कंपनी पर अब भी 2,763 करोड़ रुपये की टैक्स देनदारी बकाया है।

इस कंपनी ने किया 100% डिविडेंड का ऐलान, इस दिन खाते में आएंगे पैसे, जानें पूरी डिटेल!

निष्कर्ष: Infosys Share Price

इस पर्याप्त कर रिफंड को सुरक्षित करके, इंफोसिस ने अपनी वित्तीय स्थिति को मजबूत किया है, जिससे गतिशील आईटी क्षेत्र में निरंतर विकास और स्थिरता का मार्ग प्रशस्त हुआ है।

यह बड़ी खबरे भी पढे:

FireStoneCenter.org एक वेबसाइट है जो शेयर बाजार से जुड़ी जानकारी प्रदान करती है। इस वेबसाइट का उद्देश्य शेयर बाजार से संबंधित नवीनतम समाचार और जानकारी साझा करना है। हालांकि, इस वेबसाइट द्वारा प्रदान की गई सभी जानकारी केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है और निवेश सलाह के रूप में नहीं दी जाती है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top