Join WhatsApp Group!

पेटीएम के वॉलेट पर लगी अडानी-अंबानी की नजर! शेयर बाजार में हलचल, जानिए पूरा मामला

Mukesh Ambani Paytm Acquisition

Mukesh Ambani Paytm Acquisition: पेटीएम के वॉलेट व्यवसाय को हासिल करने में मुकेश अंबानी की रुचि की चर्चा के बीच जियो फाइनेंशियल के शेयरों में उछाल आया। इस संभावित अधिग्रहण से जुड़े विवरण और विवादों पर गौर करें।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Channel Join Now

नियामक मुद्दों और अधिग्रहण वार्ता के तूफान के बीच, पेटीएम खुद को अटकलों के बवंडर के केंद्र में पाता है। पेटीएम के भुगतान बैंक पर भारतीय रिजर्व बैंक के हालिया प्रतिबंधों ने संभावित अधिग्रहणों की चर्चा शुरू कर दी है, जिसमें जियो फाइनेंशियल अग्रणी बनकर उभर रहा है।

Mukesh Ambani Paytm Acquisition

एक अखबार की रिपोर्ट के बाद अटकलें तेज हो गई हैं कि मुकेश अंबानी की Jio फाइनेंशियल सर्विसेज, एचडीएफसी बैंक के साथ, पेटीएम के संकटग्रस्त वॉलेट व्यवसाय को हासिल करने की संभावना तलाश रही है।

दौड़ में कौन है?

द हिंदू बिजनेस लाइन के अनुसार, एचडीएफसी बैंक और जियो फाइनेंशियल दोनों सक्रिय रूप से अधिग्रहण को आगे बढ़ा रहे हैं। पेटीएम के सीईओ विजय शेखर शर्मा की टीम और जियो फाइनेंशियल के बीच नवंबर से ही बातचीत चल रही है, जबकि पेटीएम पेमेंट्स बैंक पर आरबीआई के प्रतिबंध से ठीक पहले एचडीएफसी बैंक के साथ चर्चा तेज हुई थी।

बजट के बाद इन शेयरों ने मचाई धूम, 2 दिन में 30% का मुनाफा, निवेशकों को बना दिया मालामाल!

जियो का रणनीतिक कदम

जियो फाइनेंशियल एक व्यापक बचाव योजना के हिस्से के रूप में पेटीएम पेमेंट्स बैंक के लिए एक जीवनरेखा का विस्तार कर सकता है। आरबीआई की नियामक कार्रवाई के बाद पेटीएम के संघर्ष के बीच यह संभावित अधिग्रहण हुआ है।

पेटीएम के विवाद

हालिया जांच से पता चलता है कि मनी लॉन्ड्रिंग के माध्यम के रूप में पेटीएम का संभावित दुरुपयोग हो सकता है। हालाँकि, पेटीएम ने नियामक अनुपालन के प्रति अपनी प्रतिबद्धता पर जोर देते हुए किसी भी आरोप से सख्ती से इनकार किया है।

कौन बनेगा करोड़पति? ये 3 ऑटो शेयर बदल देंगे आपकी किस्मत, अभी देखो!

जियो फाइनेंशियल के बारे में जानकारी

रिलायंस इंडस्ट्रीज द्वारा समर्थित जियो फाइनेंशियल (Jio Financial Services), जियो पेमेंट्स बैंक के माध्यम से एक मजबूत डिजिटल बुनियादी ढांचे का दावा करता है। डिजिटल बचत खातों और विस्तारित भुगतान सेवाओं जैसी नवीन पेशकशों के साथ, Jio का लक्ष्य भारत के डिजिटल वित्तीय परिदृश्य को नया आकार देना है।

सीईओ का आश्वासन

हाल ही में एक वर्चुअल टाउन हॉल में, पेटीएम के सीईओ विजय शेखर शर्मा ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड के कर्मचारियों के बीच चिंताओं को दूर करने की कोशिश की। शर्मा ने पेटीएम परिवार के भीतर एकता पर जोर दिया और नियामकों के साथ सहयोगात्मक प्रयासों और बातचीत के माध्यम से कंपनी की चुनौतियों को हल करने में विश्वास व्यक्त किया।

भारत की डिजिटल अर्थव्यवस्था के उभरते परिदृश्य में, पेटीएम के वॉलेट व्यवसाय का भाग्य अनिश्चित बना हुआ है, हितधारक उत्सुकता से आगे के विकास का इंतजार कर रहे हैं।

Read More:

WhatsApp Group Join Now
Telegram Channel Join Now

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top